IAS Success Story: Ruchi Could Not Pass The UPSC Pre-exam Thrice But She Became IAS In The Fifth Attempt

By | March 10, 2021

Success Story Of IAS Topper Ruchi Bindal: किसी भी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए धैर्य काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. अगर आप धैर्य के साथ लगातार मेहनत करेंगे तो आप निश्चित रूप से सफल होंगे. ऐसी ही कहानी रुचि बिंदल की है, जिन्हें यूपीएससी में कई बार असफलता मिली. हालांकि रुचि निराश नहीं हुई और खुद को मोटिवेट रखकर तैयारी जारी रखी. उनका यूपीएससी का सफर लंबा रहा, लेकिन पांचवें प्रयास में उन्हें सफलता मिल गई. इतना ही नहीं पांचवें प्रयास में उन्हें ऑल इंडिया 39वीं रैंक मिली. उनका सफर ऐसे लोगों के लिए प्रेरणा है जिन्हें यूपीएससी में सफलता नहीं मिली है और लगातार तैयारी कर रहे हैं. आइये उनके सफर पर एक नजर डालते हैं.

कैसा रहा रुचि का यूपीएससी का सफर 

रुचि बिंदल का यूपीएससी का सफर काफी लंबा रहा. तीन बार वे प्री-परीक्षा तक पास नहीं कर पाईं. यह किसी भी कैंडिडेट के लिए काफी निराशाजनक होता है. हालांकि उन्होंने खुद को सकारात्मक रखा और तैयारी जारी रखी. चौथे प्रयास में वे प्री-परीक्षा पास कर गईं. इससे उनका कॉन्फिडेंस बढ़ा और उन्होंने मेंस परीक्षा दी. हालांकि मेंस परीक्षा वे पास नहीं कर पाईं. इस बार रुचि का लक्ष्य मेंस परीक्षा को पास कर इंटरव्यू तक जाना था. पांचवें प्रयास में वह न सिर्फ इंटरव्यू तक पहुंचीं बल्कि उन्होंने 39वीं रैंक हासिल कर आईएएस बनने का सपना पूरा किया. इस तरह उन्हें यूपीएससी में पांचवीं बार में सफलता मिली.

सिविल सर्विस की प्री-परीक्षा के लिए टिप्स

यूपीएससी की प्री-परीक्षा पास करना रुचि के लिए काफी मुश्किल रहा. ऐसे में उनका कहना है कि इस परीक्षा को पास करने के लिए आप अपने सिलेबस को अच्छी तरह पढ़ें. उनका कहना है कि हर सब्जेक्ट की चुनिंदा किताबें रखें और उन्हें कई बार अच्छी तरह पढ़ लें. इससे आपका समय बचेगा और परीक्षा में पास होने की संभावना बढ़ जाएगी. उनका मानना है कि किसी भी एग्जाम में पास होने के लिए हर किसी की अलग रणनीति होती है. अगर आप किसी दूसरे शख्स की रणनीति को अपनाएंगे तो वह आपके लिए बेहतर नहीं होगा. आपको अपनी जरूरतों के हिसाब से रणनीति को बनाना चाहिए.

यहां देखें रुचि बिंदल का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

 

दूसरे कैंडिडेट्स को रुचि की सलाह

यूपीएससी की तैयारी करने वाले लोगों को रुचि मन लगाकर पढ़ने की सलाह देती हैं. वे कहती हैं कि आप जितना ज्यादा आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करेंगे उतना आपके लिए बेहतर होगा. इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए धैर्य रखना भी काफी जरूरी होता है. जब आप असफल हों तो उससे कुछ सीखें और अपनी कमियों को सुधार कर आगे अच्छा करने की कोशिश करें. आपकी कड़ी मेहनत और धैर्य इस परीक्षा में सफलता के लिए काफी मायने रखते हैं.

यह भी पढ़ें

IAS Success Story: आईएएस बनने के लिए अंकुश ने 19 लाख के पैकेज वाली नौकरी छोड़ी, इंटर्नशिप के दौरान अफसर से हुए थे प्रभावित

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *