IAS Success Story Passed UPSC Exam In First Attempt But Priyank Did Not Get Good Rank Tried Second And Became IAS

By | April 19, 2021

Success Story Of IAS Topper Priyank Kishore: आज आपको साल 2019 में यूपीएससी परीक्षा पास कर आईएएस अफसर बनने वाले प्रियांक किशोर की कहानी बताएंगे. वे साल 2018 में भी यूपीएससी परीक्षा पास कर चुके थे, लेकिन उनकी रैंक 274 आई थी, जिसकी वजह से उन्हें इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स सर्विस के लिए चुना गया. उनका सपना आईएएस अफसर बनने का था. ऐसे में उन्होंने दोबारा परीक्षा देने का फैसला किया. इस बार किस्मत ने उनका साथ दिया और उन्होंने ऑल इंडिया रैंक 61 प्राप्त की. इस तरह उनका यूपीएससी का सफर पूरा हो गया. 

पहले प्रयास में सफलता मिलने से बढ़ा कॉन्फिडेंस

प्रियांक के मुताबिक जब पहले प्रयास में उन्होंने यूपीएससी परीक्षा पास कर ली तो उनका कॉन्फिडेंस काफी बढ़ गया. उन्हें यह भरोसा हो गया कि वे दूसरे प्रयास में अपनी कमियों को सुधारकर मन मुताबिक रैंक हासिल कर सकते हैं. उन्होंने लगातार मेहनत की और दूसरे प्रयास में आईएएस अफसर बनकर अपना सपना पूरा किया. उनका यूपीएससी का सफर करीब 3 साल लंबा रहा. ग्रेजुएशन के बाद ही उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी थी.

कमियों पर फोकस करना जरूरी

प्रियांक का मानना है कि यूपीएससी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको अच्छी रणनीति के साथ लगातार मेहनत करनी होगी. साथ ही अपनी तैयारी का एनालिसिस करके कमियों की पहचान करनी होगी. इससे आपकी तैयारी बेहतर होगी और आपका कॉन्फिडेंस बढेगा. उनके मुताबिक आंसर राइटिंग करना भी बहुत जरूरी होता है. इसके जरिए परीक्षा वाले दिन बेहतर कर पाते हैं.

यहां देखें प्रियांक का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अन्य कैंडिडेट्स को प्रियांक की सलाह

प्रियांक का मानना है कि आप को सकारात्मक रहकर यूपीएससी की तैयारी करनी चाहिए. आप एक बार अपने सिलेबस को पूरा करने के बाद आंसर राइटिंग और मॉक टेस्ट की प्रैक्टिस में जुट जाएं. इनके आधार पर आप अपनी कमियों को देखें और उन्हें सुधारें. अगर आप छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखकर तैयारी करेंगे तो आप यूपीएससी में जरुर सफलता प्राप्त कर सकते हैं. 

IAS Success Story: फुल टाइम जॉब के साथ की UPSC की तैयारी, चार बार हुए फेल, कड़ी मेहनत से रोशन पांचवें प्रयास में हुए सफल

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *