IAS Success Story Failed Twice In UPSC But Raghav Got Success Due To Hard Work | IAS Success Story: पहले प्रयास में यूपीएससी की मेंस परीक्षा तक पहुंचे, दूसरी बार प्री

By | April 18, 2021

Success Story Of IAS Topper Raghav Jain: आज आपको यूपीएससी परीक्षा 2019 में ऑल इंडिया रैंक 127 प्राप्त कर अपना सपना पूरा करने वाले राघव जैन की कहानी बताएंगे जो काफी चुनौतीपूर्ण रही. दो बार यूपीएससी में असफलता मिलने के बाद राघव ने इस फील्ड को छोड़ने का फैसला कर लिया था, लेकिन परिवार और दोस्तों ने उन्हें सपोर्ट किया और तीसरी बार परीक्षा देने के लिए मनाया. उन्होंने पूरे जोश के साथ तीसरी बार परीक्षा दी और सफलता प्राप्त कर ली. आइए उनके सफर के बारे में जान लेते हैं.

पोस्ट ग्रेजुएशन के दौरान यूपीएससी का फैसला किया

राघव मूल रूप से पंजाब के लुधियाना के रहने वाले हैं. उनकी शुरुआती पढ़ाई यहीं हुई और इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने बीकॉम की डिग्री हासिल की. बीकॉम के बाद उन्होंने पोस्ट ग्रेजुएशन में दाखिला ले लिया. इसी दौरान उन्होंने यूपीएससी में जाने का मन बनाया और तैयारी शुरू कर दी. तैयारी के लिए वे दिल्ली आ गए और उन्होंने 6 महीने यहां रहकर तैयारी की. इसके बाद वे वापस लुधियाना चले गए और सेल्फ स्टडी करना शुरू कर दिया. 

कभी यूपीएससी छोड़ने का बना लिया था मन 

राघव ने अच्छी रणनीति बनाकर अपनी तैयारी की थी और साल 2017 में उन्होंने पहले ही प्रयास में प्री परीक्षा पास कर ली. इस बार वे मेंस में अटक गए. इससे वे निराश नहीं हुए और उनका कॉन्फिडेंस बढ़ गया. लेकिन साल 2018 में उनकी किस्मत खराब रही और वह प्री परीक्षा में ही फेल हो गए. इससे राघव निराश हो गए और उन्होंने यूपीएससी का सफर खत्म करने की ठान ली. हालांकि परिवार और दोस्तों के सपोर्ट से उन्होंने एक बार और प्रयास करने का फैसला किया. इस बार किस्मत ने भी उनका साथ दिया और उन्होंने सफलता हासिल कर ली.

यहां देखें राघव का दिल्ली नॉलेज ट्रैक को दिया गया इंटरव्यू

अन्य कैंडिडेट्स को राघव की सलाह

राघव का मानना है कि यूपीएससी की तैयारी करते वक्त आपको सिलेबस के हिसाब से लिमिटेड स्टडी मैटेरियल तैयार करना चाहिए. वे कहते हैं कि अगर आप ज्यादा सोर्स इकट्ठा कर लेंगे तो उससे तैयारी करना मुश्किल हो जाएगी. आप पूरी ईमानदारी से ज्यादा से ज्यादा पढ़ाई करें. अच्छे शेड्यूल और बेहतर रणनीति की बदौलत आप इस परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकते हैं. वे कहते हैं कि इस परीक्षा में सफलता के लिए धैर्य रखना भी जरूरी होता है. अगर आप धैर्य के साथ तैयारी करेंगे तो आपको निश्चित रूप से सफलता मिलेगी.

IAS Success Story: UPSC में दो बार हुईं फेल, घर जाना भी छोड़ा और तीसरे प्रयास में मधुमिता बनीं आईएएस

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *